कोविड-19 के चलते तीन की मौत, 96 पॉजीटिव

कोविड-19 के चलते तीन की मौत, 96 पॉजीटिव

कपूरथला (चंद्रशेखर कालिया): कोरोना महामारी जो दुनिया भर में फैल रही है, दिन-ब-दिन ओर भी भयानक रूप ले रही है और पंजाब सरकार इसे रोकने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है। इसके तहत डिप्टी कमिशनर दीप्ती उप्पल के निर्देशानुसार जहां बीडीपीओ, डीटीओ कार्यालय सहित सभी कर्मचारियों के कोरोना सैंपल लिए गए, इस दौरान कपूरथला जिले में कोरोना में 3 मरीजों की मौत हो गई। जिसमें 60 वर्षीय व्यकित वासी नवा ठट्टा जिसकी जालंधर के एक निजी अस्पताल में इलाज दौरान मौत हो गई। आरसीएफ के एक 55 वर्षीय व्यक्ति की आज मौत हो गई।

वहीं जालंधर के एक निजी अस्पताल में इलाज कर रहे 70 वर्षीय व्यक्ति की आज मौत हो गई। इस संबंध में जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डा. जसमीत कौर बावा ने कहा कि 96 कोरोना पीडि़त आए, जिससे कोरोना पीडि़तों की संख्या 3098 हो गई। सक्रिय मामले 647 और 2105 तक मरीज़ों की संख्या पहुंच गई है। जिनमें से 86 कोरोना पीडि़तों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। बावा ने कहा कि अमृतसर मेडिकल कॉलेज से 658 कोरोना सैंपलों की रिर्पोट आई। जिनमें से 25 पाज़ीटिव और 633 नैगटिव थे। 21 सैंपल टरू-नैट पर लिए गए, जिनमें से 8 पाज़ीटिव 13 नैगटिव थे।

एंटीजऩ पर 620 सैंपल लिए गए, जिसमें से 35 पाज़ीटिव और 585 नैगटिव थे। डा. जसमीत कौर बावा ने बताया कि इन सभी मरीजों को पीटीयू, नशा छुडाओं केंद्र और घर पर कई लोगों को घर पर ही कुवांरटाईन कर दिया है। जिले में कोरोना के 1742 कोरोना सैंपल लिए गए, जिनमें से 292 कपूरथला में से सैंपल लिए गए। जिनमें सब्जी मंडी से 21 सैंपल, डीटीओ आफिस से 35, मनी महेश मंदिर से 25, एसके फैक्टरी 50, कन्या कालेज से 41 के अलावा 83 एंटीजन पर, टरूनैट पर 18 के अलावा बीडीपीओ कार्यालय, निजी कारखानों, फ्लू कॉर्नर, गर्भवती महिलाओं तथा कोरोना के संपरक में आने वालो के सैंपल लिए गए है। वहीं एनआरआई के अलावा सर्जरी, खांसी, सर्दी, बुखार, अस्थमा आदि के भी सैंपल लिए गए है। पीसीआर के 22, भुलत्थ से 64, सुल्तानपुर लोधी से 163, बेगोवाल से 228, ढिलवां से 7, काला संघिया 306, फतूढींगा से 224, पांछटा से 227 और टिब्बा से 111 सैंपल लिए गए है। डा. राजीव भगत ने बताया कि लोगो को बाहर निकलने समय मुंह पर मास्क, हाथों पर सैनेटाईजऱ और बज़ारों में एक-दूसरे से सोशल डिस्टैंस का खास ध्यान रखना चाहिए ताकि इस महामारी को जल्द से जल्द खत्म किया जा सके।

Share