पिता ने बेटा-बेटी को गला घोंटकर मारा, फिर खुद कर लिया Suicide

पिता ने बेटा-बेटी को गला घोंटकर मारा, फिर खुद कर लिया Suicide

नई दिल्ली: शालीमार बाग इलाके में एक व्यक्ति ने अपने ही बेटा-बेटी की गर्दन मरोड़कर हत्या कर दी। उसके बाद हैदरपुर मेट्रो के आगे कूदकर खुद भी खुदकुशी कर ली। पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए बाबू जगजीवन राम अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस मामला दर्जकर जांच कर रही है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों के गले पर कुछ संदिग्ध निशान भी हैं। शुरुआती जांच में लग रहा है कि हो सकता है कि दोनों बच्चों को पहले जहर दिया गया हो, जिसके बाद गर्दन मरोड़ी गई हो। आसपास रहने वालों को मकान से कोई चिल्लाने की आवाज नहीं सुनाई दी थी। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार करेगी कि बच्चों को जहर दिया गया था या नहीं। जानकारी के मुताबिक, पुलिस को सूचना मिली कि बीजी 48 ईस्ट शालीमार बाग के रूम में बच्चे की हत्या कर दी गई है, पुलिस मौके पर पहुंची। तीसरी मंजिल पर बने मकान के अंदर वाले कमरे में समीक्षा (14) और उसका 6 साल का भाई श्रेयांस बिस्तर में मृत हालात में पड़े थे। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों शवों को सबसे पहले उनकी मां रुपाली ने देखा था, जो अपने मायके मॉडल टाउन परिवार से मिलकर घर वापस आई थी। मौके पर उसका पति मधुर मालानी नहीं मिला। उसको उसी पर सबसे ज्यादा शक हुआ। अभी पुलिस दोनों बच्चों के शव कब्जे में ले ही रही थी, तभी पुलिस को जानकारी मिली कि हैदरपुर मेट्रो स्टेशन प्लेटफ ार्म नंबर एक पर मधुर मालानी ने खुदकुशी कर ली है, जिसके पास से सुसाइड नोट मिला है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मधुर अपनी पत्नी और दोनों बच्चों के साथ पिछले 2 साल से किराये के मकान पर रह रहा था। उसके दोनों बच्चे शालीमार बाग स्थित पब्लिक स्कूल से पढ़ाई कर रहे थे। मधुर करीब 7 महीने पहले फैक्ट्री में नौकरी करता था, लेकिन अब नौकरी नहीं होने की वजह से वो मानसिक रूप से परेशान रहने लगा था। वह पत्नी से अक्सर झगड़ा करता रहता था।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *