अजीबोगरीब रिसर्चः अब मर्द भी हो सकते हैं प्रेग्नेंट!

अजीबोगरीब रिसर्चः अब मर्द भी हो सकते हैं प्रेग्नेंट!

नई दिल्ली। चीन के वैज्ञानिक अजीबोगरीब रिसर्च करते रहते हैं. बीते दिनों चीन के वुहान लैब से निकले एक वैज्ञानिक ने दावा किया था कि चीन अजीबोगरीब रिसर्च करते रहता है. वहां कई ऐसे रिसर्च किये जाते हैं जो आमतौर पर अन्य देशों में बैन है. इसी के बीच अब चीन के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि उन्होंने मर्दों प्रेग्नेंट करने का चमत्कार कर दिखाया है. इसके लिए वो कई सालों से रिसर्च कर रहे थे. अब जाकर इस रिसर्च का नतीजा सामने आ गया है.

चीन में वैज्ञानिकों द्वारा किये इस रिसर्च में नर चूहे की बॉडी पर एक्सपेरिमेंट किया गया. इसमें नर की बॉडी में सर्जरी के जरिये मादा की बॉडी से निकाला गया बच्चेदानी फिट किया गया. इसके बाद नर को प्रेग्नेंट कर सिजेरियन के जरिये बच्चे पैदा करवाए गए. इस रिसर्च के बाद अब फ्यूचर में मर्दों के प्रेग्नेंट होने के चांसेस बढ़ गए हैं. इंफोवार्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस रिसर्च के बाद अब वैसे ट्रांसजेंडर जो बच्चे पैदा करना चाहते हैं, को मदद मिलेगी.

ये एक्सपेरिमेंट शंघाई के नेवल मेडिकल यूनिवर्सिटी द्वारा किया गया. इसमें रिसर्चर्स ने मादा चूहों की बॉडी से बच्चेदानी को पहले बाहर निकला. इसके बाद उसे नर चूहे की बॉडी में फिट किया. इस यूट्रस ट्रांसप्लांट के बाद नर को प्रेग्नेंट कर उसकी सिजेरियन के जरिये डिलीवरी करवाई गई. इस रिसर्च को चार स्टेप में पूरा किया गया. इसे रैट मॉडल बताया गया. हालांकि, अभी इसकी सक्सेस रेट मात्र 3.68 परसेंट ही बताई गई है. नर चूहे में एक्सपेरिमेंट कामयाब हो गया और नर ने 10 बच्चे पैदा किये.

चीन के रिसर्चर अब रैट मॉडल को इंसानों पर अपनाने की फ़िराक में हैं. ऐसा पहली बार हुआ है कि एक्सपेरिमेंट में नर को प्रेग्नेंट किया गया. मैमल में हुए इस एक्सपेरिमेंट से अब इसके इंसानों में कामयाब होने की उम्मीद बढ़ गई है. इससे पहले NYU स्कूल ऑफ़ मेडिसिन ने ट्रांसजेंडर्स के लिए भी ऐसा एक एक्सपेरिमेंट किया था. इसमें वैसे ट्रांसजेंडर्स जो प्रेग्नेंट होना चाहते हैं, अपने यूट्रस की सर्जरी नहीं करवाते. और मेल की बॉडी में ही प्रेग्नेंट हो जाते हैं.

Share