पंजाब भाजपा लीडरशिप केंद्र को समझाने मे असफल : राजकुमार राज

पंजाब भाजपा लीडरशिप केंद्र को समझाने मे असफल : राजकुमार राज

जालंधर (हर्ष)। पूर्व पंजाब भाजपा ट्रांसपोर्ट सैल के सह संयोजक राजकुमार राज ने पूर्व सीपीएस केडी भंडारी, पूर्व मंत्री अनिल जोशी, पूर्व मंत्री मास्टर मोहन लाल के बयानों पर सहमति जताते हुए कहाकि पंजाब भाजपा की मौजूदा लीडरशिप केंद्र को समझाने में असफल साबित हुई है। हम पंजाब में रहते हैं हमें पंजाब के हितों के लिए लड़ना चाहिए ना कि अपनी कुर्सी बचाने के लिए, अगर पंजाब भाजपा की लीडरशिप शुरुआती दौर में ही किसान आंदोलन में केंद्र को समझाने में सफल हो जाती तो यह किसान आंदोलन आज इतना बड़ा मुद्दा नहीं बनता और पंजाब मे भाजपा की यह हालत नहीं होती।

पंजाब के कई गांव में भाजपा के लीडरों को प्रवेश करने के लिए विरोध का सामना करना पड़ रहा है। यह भाजपा की मौजूदा लीडरशिप पंजाब में सरकार बनाने की बातें कर रही है। 117 सीटों पर चुनाव लड़ने की बातें कर रही है। ऐसी स्थिति में एक सीट को बचाना भी मुश्किल है और यह सरकार को बनाने का दावा कर रहे हैं। अगर यह कानून किसानों के हितों के लिए बनाए गए हैं और किसान इस कानून को अपने हित में नहीं समझ रहे हैं तो यह कानून रद्द कर देने चाहिए और इसी में पंजाब के किसानों और व्यापारी वर्ग और पंजाब भाजपा की भी भलाई है।

Share