इस ब्लड ग्रुप के लोगों को सबसे ज्यादा होता है हार्ट अटैक का खतरा

इस ब्लड ग्रुप के लोगों को सबसे ज्यादा होता है हार्ट अटैक का खतरा

नई दिल्ली: हृदय से जुड़ी बीमारी एक गंभीर समस्या है. यह बहुत से लोगों को प्रभावित करती है. इसके कई कारण होते हैं. खराब जीवनशैली, तनाव, चिंता और अन्य कारणों से यह बीमारी उत्पन्न होती है. WHO के अनुसार, हृदय रोग दुनियाभर में मौतों का एक प्रमुख कारण है. ऐसे में यह जानना जरूरी है कि किन लोगों को इस बीमारी से ज्यादा सचेत रहने की जरूरत है. एक स्टडी के मुताबिक यदि आपका नॉन-O ब्लड टाइप है, तो आपको अधिक सावधान रहने की जरूरत है.

एक रिपोर्ट के अनुसार, एक रिसर्च में यह पता चला है कि नॉन-O ब्लड टाइप वाले लोगों में दिल का दौरा पड़ने का ज्यादा रिस्क होता है. रक्त का प्रकार हार्ट अटैक को कैसे बढ़ा सकता है, इसको लेकर रिसर्चर्स ने अध्ययन किया. स्टडी में करीब 4 लाख से अधिक लोगों का विश्लेषण किया गया. इसमें पाया गया कि ब्लड टाइप A या B वाले लोगों में O ब्लड ग्रुप वालों की अपेक्षा दिल का दौरा पड़ने का रिस्क 8% ज्यादा होता है.

रिसर्चर्स ने नॉन-O ब्लड टाइप A और B में भी आपस में तुलना की और इसके बाद पता चला कि B ग्रुप वाले लोगों में हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा होता है. रिसर्च के अनुसार B ब्लड ग्रुप वाले लोगों में O ग्रुप वाले लोगों के मुकाबले मायोकार्डियल इन्फार्कशन (Heart Attack) का खतरा ज्यादा रहता है. वहीं A ग्रुप वाले लोगों में O ब्लड ग्रुप वाले लोगों की अपेक्षा 11% अधिक हार्ट फेलियर का खतरा बना रहता है.

कहा जाता है कि आजकल लोगों की व्यस्त जीवन शैली के कारण, अनियमित आहार, जंक फूड या अधिक मसालेदार भोजन के कारण दिल के दौरे का खतरा ज्यादा रहने लगा है. उच्च रक्तचाप के वजह से भी हृदय पर अनावश्यक तनाव के चलते हार्टअटैक हो सकता है. इसके अलावा मानसिक तनाव से जूझने वाले लोग भी दिल के दौरे के रिस्क का सामना कर सकते हैं. धूम्रपान और शराब आदि का सेवन करने वाले लोग भी दिल के दौरे का सामना कर सकते हैं. इसके अलावा अधिक मात्रा में वजन बढ़ जाने से भी दिल पर दौरा पड़ने की संभावना रहती है.

ऐसे बरतें सावधानी
फोन का प्रयोग कम करें
पौष्टिक एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार ले
​हर दिन घूमे
BMI लेवल को हेल्दी बनाए रखे
ब्लड शुगर लेवल को चेक करते रहे
​धूम्रपान और शराब पीना बंद करें

Share