OSD गोपाल कृष्ण माधव रिश्वत लेते गिरफ्तार…

OSD गोपाल कृष्ण माधव रिश्वत लेते गिरफ्तार…

नई दिल्ली। दिल्ली में ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव को रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। सिसोदिया ने गिरफ्तारी को जायज ठहराते हुए गोपाल कृष्ण माधव पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। वहीं बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने सिसोदिया पर गंभीर आरोप लगाए हैं।सिसोदिया ने गिरफ्तार ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव को सख्त-से-सख्त सजा दिए जाने की वकालत की है। उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 5 सालों में उन्होंने खुद ऐसे कई भ्रष्ट अधिकारियों को पकड़वाया है। सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे पता चला है कि सीबीआई ने एक जीएसटी इन्स्पेक्टर को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। यह अधिकारी मेरे ऑफिस में बतौर ओएसडी भी तैनात था। सीबीआई को उसे तुरंत सख्त से सख्त सजा दिलानी चाहिए। ऐसे कई भ्रष्टाचारी अधिकारी मैंने खुद पिछले 5 साल में पकड़वाए हैं।

‘जब पता चले, तभी ऐक्शन होना चाहिए: सिसोदिया…
एक टीवी इंटरव्यू में सिसोदिया ने कहा कि उनके पास 10-12 ओसडी हैं, लेकिन अगर कोई भी भ्रष्टाचार करता है तो उसे सजा मिलनी चाहिए। चुनाव के आसपास हुई इस गिरफ्तारी से जुड़े सवाल पर सिसोदिया ने कहा कि इसमें टाइमिंग का कोई लेना-देना नहीं है। भ्रष्टाचार का जब पता लगे, कार्रवाई होनी चाहिए।बता दें कि गुरुवार देर रात सीबीआई ने दिल्ली सचिवालय में तैनात गोपाल कृष्ण माधव को गिरफ्तार किया जबकि शनिवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होने वाली है।बिना सहमति भ्रष्टाचार नहीं करता है अफसर: मालवीयउधर, बीजेपी आईटी सेल के अध्यक्ष अमित मालवीय ने भी आप पर हमले के लिए ट्विटर का ही सहारा लिया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘डेप्युटी सीएम के ऑफिस में कोई ओसडी अपने बॉस की जानकारी के बिना रिश्वत नहीं ले सकता। केजरीवाल और सिसोदिया पर पहले भी भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं।’ उन्होंने आगे लिखा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ किए आंदोलन से जन्मी पार्टी, भ्रष्टाचार पर ही खत्म होगी।

यह है मामला…
सीबीआई ने दिल्ली सचिवालय के अधिकारी गोपाल कृष्ण माधव को 2 लाख रुपये रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। रिश्वत मामले में गिरफ्तार अधिकारी का नाम सरकारी वेबसाइट पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी ओएसडी के रूप में दर्ज है। वह 2015 से सिसोदिया के कार्यालय में तैनात हैं। इस मामले में सिसोदिया की कोई भूमिका सामने नहीं आई है। मामले की जांच जारी है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *