पत्रकारों को फ्रंटलाइन वारियर घोषित किया जाए : सुक्रांत..

पत्रकारों को फ्रंटलाइन वारियर घोषित किया जाए : सुक्रांत..

यूनाइटेड मीडिया क्लब के सदस्यों ने चीफ मिनिस्टर के नाम डीसी को सौंपा ज्ञापन..

फ्रंट लाइन वारयिर श्रेणी में वैक्सीन लगवाने की मांग की..

जालंधर (निशा शर्मा)। पत्रकार फ्रंट लाइन वारियर की तरह ही फील्ड में काम कर रहे हैं और साथ ही कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं। लेकिन आज तक किसी भी सरकार ने पत्रकारों को फ्रंट लाइन वारियर घोषित नहीं किया गया है। यह कहना था यूनाइटेट मीडिया क्लब के प्रधान सुक्रांत का, जो पत्रकारों को फ्रंट लाइन वारियर घोषित करवाने के लिए डीसी घनश्याम थोरी को मांग पत्र सौंपने के लिए पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की शुरुआत से ही मीडियाकर्मी हर क्षेत्र में काफी सक्रिय हैं। उन्होंने पंजाब के प्रत्येक कोने को कवर करने का प्रयास किया है और पंजाब सरकार द्वारा किए गए दिशा-निर्देशों और अन्य महत्वपूर्ण घोषणाओं को सक्रिय रूप से फैलाया है। पैट्रन मनोज त्रिपाठी ने कहा कि पत्रकार कर्फयू के समय में भी सामाजिक कारणों से सक्रिय रहे हैं। हम में से बहुत से लोग वायरस का शिकार हो गए हैं, कुछ बच गए, फिर भी हमने अपने कुछ सहयोगियों को खो दिया और उनमें से कुछ कम आयु वर्ग के भी थे जो आपके कार्यालय के ज्ञान में है।

इनमें पत्रकार रोहित सरदाना कनुप्रिया जैसे नाम शामिल हैं जिनको कोरोना वायरस की वजह से हमें खोना पड़ा। यदि उनको भी फ्रंटलाइन वारियर घोषित करके वैक्सीन लगाया गया होता तो शायद उनकी जिंदगी बच जाती। वहीं सीनियर वाइस प्रेसिडेंट टिंकू पंडित ने कहा कि मीडियाकर्मियों को अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं के रूप में शामिल किया जाए और उन्हें उस श्रेणी में टीका लगवाया जाए।

डीसी घनश्याम थोरी ने आश्वासन दिया कि पत्रकारों को फ्रंट लाइन वारियर घोषति करवाने के लिए मुख्यमंत्री तक बात पहुंचाई जाएगी और इसे अमल में लाने का प्रयास किया जाएगा। साथ ही सारे पत्रकारों को, 18 साल से ऊपर, भी जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाई जाएगी। इस मौके पर यूनाइटेड मीडिया क्लब के महासचिव मदन भारद्वाज, कैशियर सुधीर पुरी, शाम सहगल, कमल किशोर, राजेश कुमार, मुनीष तोखी, वरुण अग्रवाल, अमित ठाकुर, विशाल, कुलवंत मठारू, राज, निशा, जतिन, लवदीप सहित अन्य मौजुद थे।

Share