आईटीआई की महिला अध्यापकों को पिछले 26 महीने से नहीं मिला वेतन

आईटीआई की महिला अध्यापकों को पिछले 26 महीने से नहीं मिला वेतन

पठानकोट/अजय सैनी। पठानकोट के मिशन रोड स्थित महिला आईटीआई की महिला अध्यापकों को पिछले 26 महीने से सरकार द्वारा तनख्वाह नहीं दी गई है। सरकार द्वारा कोविड-19 के दौरान भी इन महिला अध्यापकों से काम तो करवाया गया परंतु इनको तनख्वाह जारी नहीं की गई। जिससे महिला अध्यापकों रेखा महाजन, शवेता महाजन, मीनाक्षी रैना, मधु शर्मा, ईला शर्मा, तनुश्री आदि ने कहा कि वह पिछले 26 महीने से लगातार महिला आईटीआई में पढ़ाने के लिए आ रही है। आईटीआई का बाकी का दफ्तर का काम भी करवाया जाता है परंतु तनख्वाह नहीं दी जाती। उनको सरकार द्वारा पीपीपी स्कीम के तहत नौकरी पर रखा गया था। परंतु अब पिछले 26 महीने से इन अध्यापकों को सरकार द्वारा तनख्वाह नहीं दी गई है। इन उनकी तरह पंजाब में और भी कई आईटीआई है जिनमें अध्यापकों को पिछले 26 महीने से तनख्वाह नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से इनके घर वालों के कामकाज भी ठप पड़े हैं और इनकी तनख्वाह भी नहीं मिल रही है। इनके घर की आर्थिक हालत काफी खराब हो चुकी है। उन्होंने सरकार से गुहार है कि तनख्वाह जल्दी जारी की जाए ताकि यह रोजाना की तरह अपने काम पर आ सके।

Share