भारत में कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा ब्यान

भारत में कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा ब्यान

नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि अगले साल फरवरी महीने तक भारत में कोरोना वायरस के एक्टिव केस की संख्या घटकर महज 40 हजार रह जाएगी. उन्होंने यह बात कई बडे़ साइंटिस्ट की रिसर्च के आधार पर कही है. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया है कि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने दुनिया के कई साइंटिस्ट्स की मदद से भविष्य में कोरोना केसों का आंकलन मॉडल तैयार करवाया है. साइंटिस्ट्स की तकनीकी के आधार पर रिसर्च में सामने आया है कि देश में अगले-तीन चार महीने में कोरोना के मामले कम होंगे. और फरवरी 2021 तक देश में सिर्फ 40 हजार एक्टिव केस मौजूद होंगे.

स्वास्थ्य मंत्री ने वैक्सीन को लेकर कहा है कि वैक्सिनेशन, स्टाफ की ट्रेनिंग और अन्य बातों को लेकर समय आने पर राज्य सरकारों से बातचीत की जाएगी. उन्होंने कहा- हमारा भरोसा है कि देश में अब कोरोना के मामलों को बढ़ने नहीं देना है. हम लगातार घटते केसों को देख भी रहे हैं.

इससे पहले नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने सर्दी के मौसम में संक्रमण की दूसरी लहर की आशंका से इनकार नहीं किया है. हालांकि उनका यह भी कहना है कि अगर बचाव की गाइडलाइन को अपनाया गया तो फरवरी 2021 तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण नियंत्रण में हो सकता है.

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वैक्सीन और उसके डिलीवरी सिस्टम को लेकर समीक्षा बैठक की थी. इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री ने डिटेल में जानकारी दी थी. स्वास्थ्य मंत्री कह चुके हैं कि भारत में अगले साल की शुरुआत में कोरोना वैक्सीन आने की संभावना है.

Share