मशहूर टेनिस स्टार हुई ‘गायब’, पूर्व डिप्‍टी PM पर लगाया था यौन शोषण का आरोप

मशहूर टेनिस स्टार हुई ‘गायब’, पूर्व डिप्‍टी PM पर लगाया था यौन शोषण का आरोप

बीजिंग: चीन की मशहूर टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई ने सनसनीखेज आरोप लगाकर पूरे देश में भूचाल ला दिया था. वर्ल्ड नंबर-1 टेनिस डबल्स प्लेयर का खिताब अपने नाम पर चुकीं शुआई ने चीन के पूर्व उप प्रधानमंत्री झांग गाओली पर यौन शोषण का आरोप लगाया था. सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए पूर्व पीएम पर आरोप लगाने वाली पूर्व विंबलडन चैम्पियन पेंग शुआई बीते दो सप्ताह से लापता हैं.

टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई के लापता होने की खबर चीन में चर्चा में है लेकिन सरकार चुप है. महिलाओं की टेनिस एसोसिएशन ने मामले की जांच की मांग की है. 35 वर्षीय शुआई ने पूर्व प्रधानमंत्री झां पर आरोप लगाया था कि 75 वर्षीय पूर्व उप-प्रधानमंत्री झांग गाओली ने उन्हें 3 साल पहले अपने साथ यौन संबंध बनाने के लिए मजबूर किया था. पेंग ने 1600 शब्दों की पोस्ट में लिखा था, ‘मैं बयां नहीं कर सकती कि कितनी डरी हुई थी. मैंने कितनी बार खुद से पूछा- क्या मैं अब भी एक इंसान हूं? मैं चलती-फिरती लाश की तरह महसूस करती. वह मुझसे प्यार का नाटक कर रहा था.’

हालांकि, बाद में उन्होंने अपनी पोस्ट डिलीट कर दी, लेकिन तब तक उनकी पोस्ट का स्क्रीनशॉट वायरल हो चुका था. इसके बाद ही कयास लगाए जा रहे थे कि पेंग को अपने इस पोस्ट का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. इन आरोपों पर झांग की ओर से कोई जवाब नहीं आया. वह 2018 में उपप्रधानमंत्री के रूप में रिटायर हुए. झांग गाओ चीन में शक्तिशाली पोलित ब्यूरो स्थायी समिति के सदस्य भी थे. पोलित ब्यूरो चीन की शीर्ष निर्णय लेने वाली संस्था है.

उधर, चीन के स्टेट काउंसिल इन्फॉर्मेशन ऑफिस ने भी इस संबंध में कोई जवाब नहीं दिया है. वीबो पोस्ट के बारे में एक रुटीन प्रेस कान्फ्रेंस में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि उन्हें इस मुद्दे की जानकारी नहीं है और यह विदेशी मामलों से संबंधित प्रश्न नहीं है. बता दें कि 2018 में #MeToo आंदोलन शुरू होने से पहले तक चीन में यौन उत्पीड़न के मामले सार्वजनिक रूप से बेहद कम सामने आते थे.

Share