कैप्टन सरकार के विरुद्ध दुकानदारों की ओर से धरना प्रदर्शन

कैप्टन सरकार के विरुद्ध दुकानदारों की ओर से धरना प्रदर्शन

क्या हम सड़कों पर उतर कर अब रोटी मांगना शुरू कर दें: दुकानदार

पंजाब सरकार की ओर से जारी किए गए आदेश अब बर्दाश्त नहीं: दुकानदार

कपूरथला/चंद्र शेखर कालिया: कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से मिनी लॉकडाउन लगाया गया था। जिसको लेकर जिला कपूरथला में भी कुछ जरूरी वस्तुओं की दुकानें खोलने की इजाजत सुबह से लेकर शाम 5:00 बजे तक दी गई थी। परंतु पंजाब सरकार के इस फैसले से सभी दुकानदार ना खुश नजर आए और उन्होंने सरकार के विरुद्ध रोष प्रदर्शन भी किया । इससे पहले सुल्तानपुर लोधी के सभी दुकानदारों एकत्रित होकर विधायक नवतेज सिंह चीमा के पी ए बलजिंदर सिंह को मिले। इस मौके पी ए बलजिंदर सिंह ने दुकानदारों को भरोसा देते हुए कहा कि उनकी मांग को सरकार के पास विधायक चीमा की ओर से पहुंचा दिया जाएगा।इस मौके पत्रकारों से बातचीत करते हुए समूह दुकानदारों ने कहा कि दुकानदार तो पहले ही आर्थिक मंदी से गुजर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम दो वक्त की रोटी खाने से भी मोहताज हो गए हैं ।

उन्होंने कहा कि पहले तो पिछले वर्ष सरकार की ओर पूरा लॉकडाउन लगा दिया था। उसके बाद फिर सरकार की ओर से दुकानों का समा बदल कर कुछ समय के लिए दुकानने खोलने की इजाजत दी गई थी। परंतु सरकार की घटिया नीतियों से दुकानदार परेशान है ।उन्होंने कहा कि दुकानदार प्रशासन के साथ हर वक्त साथ देता है परंतु अब उनके पास रोजगार के लिए कोई होर साधन भी नहीं है ।उन्होंने कहा कि हम रोजाना कमाते हैं और रोजना खाते हैं । परंतु पंजाब सरकार की ओर से जारी किए गए हुक्म उनको अब बर्दाश्त नहीं है।

उन्होंने कहा कि क्या दुकानें बंद करवा कर कोरोना महामारी खत्म हो जाएगा। उन्होंने मांग की कि सभी दुकानें खुलाई जाए। उन्होंने कहा कि महलों में बैठकर सिर्फ आदेश जारी हो सकते हैं परंतु किसे गरीब का दर्द किसी को नहीं पता चल सकता। उन्होंने कहा कि पंजाब के सीएम को ग्राउंड जीरो में आकर लोगों के हालात देखने चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन भी दुकानदारों के साथ धक्का करता है और दुकानदारों को जानबूझकर तंग परेशान करता है। इस मौके पर उन्होंने पंजाब सरकार विरुद्ध रोष प्रदर्शन किया।

Share