कोरोनाः थर्ड-वेव से जंग की तैयारी कर रहा राज्य

कोरोनाः थर्ड-वेव से जंग की तैयारी कर रहा राज्य

नई दिल्लीः राजधानी में कोरोना संक्रमण के घटते केस और महामारी की तीसरी लहर को लेकर जताई जा रही आशंकाओं के बीच स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि कोरोना की थर्ड-वेव से लड़ाई की पूरी तैयारी है। आज स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि महामारी के इस तीसरे चरण में बच्चों और बड़ों को समुचित इलाज मिले, इसके लिए सरकार सभी तैयारियां कर रही हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने दावा किया कि दिल्ली में कोरोना से बिगड़े हालात में अब तेजी से सुधार हो रहा है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक दिन पहले ही कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को लेकर केंद्र सरकार से आग्रह किया था कि सिंगापुर से आने वाली फ्लाइट्स पर पाबंदी लगाई जाए। मुख्यमंत्री ने महामारी की तीसरी लहर को लेकर केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि वैक्सीनेशन अभियान पर प्राथमिकता से काम करने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली में कोरोना के घटते मामलों के बीच तीसरी लहर को लेकर तैयारियों की बात कही थी। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इसी को आगे बढ़ाते हुए सरकार की तरफ से ये दावा किया है। कोरोना के इलाज से प्लाज्मा थैरेपी को हटाए जाने पर उन्होंने कहा कि इसे कोविड के इलाज के लिए स्पेसिफिक थैरेपी नहीं कहा गया है। कोरोना ठीक करने की एक भी दवाई नहीं है। प्लाज्मा थैरेपी का इस्तेमाल जारी रहेगा या नहीं, ये डॉक्टरों पर निर्भर करता है।

दिल्ली में ब्लैक फंगस की दवाई ना मिलने पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ब्लैक फंगस का इलाज एक प्रोटोकॉल के तहत होता है। ये घर पर नहीं किया जा सकता। अस्पतालों को दवा पूरी मात्रा में मिल जाए, इसकी कोशिश की जाएगी। दवाई का उत्पादन कम था। हमने मांग की है। दवाई की मांग बढ़ी है हमने एक लाख डोज की मांग की है। दिल्ली के अस्पतालों में बेड की स्थिति की जानकारी देते हुए मंत्री ने कहा कि राजधानी में कुल बेड की संख्या 27000 हैं, जिसमें से 13000 बेड्स खाली हैं। 6500 ICU बेड्स में से 1200 खाली हैं। स्थिति कुछ दिनों से अच्छी होती जा रही है।

Share