मुख्य सचिव ने वीडियो काॅन्फ्रेन्स के माध्यम से नाबार्ड की सोलन जिला की 02 परियोजनाओं का किया शुभारम्भ

मुख्य सचिव ने वीडियो काॅन्फ्रेन्स के माध्यम से नाबार्ड की सोलन जिला की 02 परियोजनाओं का किया शुभारम्भ

सोलन/ सुशील पंडित: हिमाचल प्रदेश के मुख्य सचिव अनिल खाची ने आज वीडियो काॅन्फ्रेन्स के माध्यम से राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) की 04 जिलों में स्वीकृत परियोजनाओं का शुभारम्भ किया। इनमें 02 परियोजनाएं सोलन जिला की हैं। यह जानकारी आज यहां नाबार्ड के जिला विकास प्रबन्धक सोलन अशोक चैहान ने दी।अशोक चैहान ने कहा कि प्रदेश के मुख्य सचिव ने वीडियो काॅन्फ्रेन्स के माध्यम से सोलन, सिरमौर, कुल्लू व मण्डी जिलों में नाबार्ड की स्वीकृत परियोजनाओं का शुभारम्भ किया।जिला विकास प्रबन्धक ने कहा कि सोलन के लिए कन्धर जलागम परियोजना तथा रूरल मार्ट का शुभारम्भ किया गया। उन्होंने कहा कि कन्धर जलागम परियोजना के माध्यम से जिला के कुनिहार खण्ड के 04 गांवों के 237 परिवारों के 1152 लोग लाभान्वित होंगे। इनमें 16 प्रतिशत परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस परियोजना द्वारा क्षेत्र में जल एवं मृदा संरक्षण की स्थिति में सुधार होगा। इससे फसलों का उत्पादन बढ़ेगा और आय में आशातीत वृद्धि होगी।अशोक चैहान ने कहा कि कन्धर जलागम परियोजना का क्रियान्वयन नाबार्ड एवं अल्ट्राटेक कम्यूनिटी वेल्फेयर फाउंडेशन द्वारा काॅरपोरेट सोशल रिस्पाॅन्सिबिलिटी के तहत किया जाना है। परियोजना के अन्तर्गत 1371 हैक्टेयर क्षेत्र में उपचार, जल निकासी उपचार, प्रशिक्षण एवं क्षमता विकास इत्यादि गतिविधियां की जाएंगी।उन्होंने कहा कि रूरल मार्ट की स्थापना सोलन के देहूंघाट में की जा रही है। इसके लिए नाबार्ड द्वारा मां शूलिनी एग्रो मार्केटिंग कोआॅपरेटिव सोसायटी सोलन को 3.45 लाख रुपये स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस मार्ट से 34 स्वयं सहायता समूहों के सदस्य जुड़े हैं। इनका गठन शेड्स सोसायटी सोलन द्वारा नाबार्ड स्वीकृत परियोजना के तहत किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मार्ट से स्थानीय कृषि व गैर कृषि उत्पादों विशेष रूप से घी, आचार, लहसुन, बड़ियां, हल्दी, ऊनी कपडे़, कूशन तथा बांस आधारित उत्पादन की बिक्री की जाएगी। उन्हांेने कहा कि 03 से 04 लाख रुपये तक की बिक्री का लक्ष्य रखा गया है।उन्होंने कहा कि मार्ट के साथ और अधिक समूहों को जोड़ने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। यह मार्ट स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं के उत्पादों के विपणन के लिए उचित स्थान उपलब्ध करवाएगा।अशोक चैहान ने कहा कि जोगिन्द्रा केन्द्रीय सहकारी बैंक सोलन को मोबाइल वैन के लिए 15 लाख रुपये की अनुदान सहायता भी स्वीकृत की गई। इस वैन के माध्यम से जिला में वित्तीय समावेशन को बढ़ावा मिलेगा।सोलन में इस अवसर पर पंचकूला, शेड्स सोलन तथा ग्राम जलागम समिति कन्धर के प्रतिनिधि तथा वीडियो लिंक के माध्यम से अल्ट्राटेक कम्यूनिटी वेल्फेयर फा: उंडेशन के सदस्य उपस्थित थे।

Share