हाईस्कूल में 15 साल के छात्र ने की फायरिंग, 3 की मौत, 8 घायल

हाईस्कूल में 15 साल के छात्र ने की फायरिंग, 3 की मौत, 8 घायल

वाशिंगटन। अमेरिका में मिशिगन के एक स्कूल में एक छात्र ने फायरिंग कर दी, जिसमें 3 स्टूडेंट्स की मौत हो गई और एक टीचर समेत 8 लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि मिशिगन के ऑक्सफोर्ड हाईस्कूल में यह घटना अमेरिकी समय के मुताबिक मंगलवार दोपहर को हुई। हमला करने वाला 15 साल का छात्र उसी स्कूल में पढ़ता था। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

ओकलैंड काउंटी के अंडरशेरिफ माइकल जी. मैककेबे के मुताबिक मारे गए स्टूडेंट्स में एक 16 साल के लड़के के अलावा 14 और 17 साल की दो लड़कियां शामिल हैं। गोली लगने से जो 8 लोग घायल हुए हैं, जिनमें एक शिक्षक है। मैककेबे ने कहा, ‘फिलहाल यह पता नहीं चला है कि मारे गए तीन छात्रों को जानबूझकर निशाना बनाया गया था या वे अंधाधुंध फायरिंग का शिकार हुए हैं। स्कूल में कोई और न फंसा हो, इसकी जांच के लिए पूरे कैंपस के तीन स्वीप किए हैं। फिलहाल जांच जारी है।’

पुलिस ने बताया कि गोली लगने से घायल हुए 8 घायलों में से 2 की सर्जरी की गई है। वहीं, 6 लोगों की हालत स्थिर है। फायरिंग करने वाले छात्र के पास से एक पिस्तौल बरामद की गई है। स्कूल में कई खाली कारतूस भी मिले हैं। इसके बाद यह तय हो गया है कि आरोपी ने 15-20 राउंड गोलियां चलाई थीं। हमला करने वाले ने बॉडी आर्मर नहीं पहना था और उसने अकेले ही इस हमले को अंजाम दिया। उसने फायरिंग किस वजह से की, इसकी जांच की जा रही है।

रोचेस्टर हिल्स फायर डिपार्टमेंट के पब्लिक इन्फॉर्मेशन ऑफिसर जॉन लाइमैन ने बताया कि खबर मिलते ही 25 एजेंसियों और 60 एम्बुलेंस को बचाव कार्य में लगाया गया। स्टूडेंट्स के परिवारों को सूचना दे गई है। स्कूल से निकाले गए छात्रों को उनके रिश्तेदारों के साथ पास के एक स्टोर में शिफ्ट कर दिया गया है।

ऑक्सफोर्ड कम्युनिटी स्कूल के अधिकारियों ने एक बयान जारी कर गोलीबारी की पुष्टि की और कहा कि “ओकलैंड काउंटी शेरिफ विभाग ने घटनास्थल को सुरक्षित कर लिया है। “ऑक्सफोर्ड हाई स्कूल के छात्रों और कर्मचारियों को व्यवस्थित रूप से मीजर गार्डन सेंटर में ले जाया जा रहा है और उन्हें वहां से उनके घर ले जाया जा सकता है। जो छात्र अपने स्वयं के परिवहन से आते हैं उन्हें जाने की अनुमति दे दी गई है। अन्य सभी जिला स्कूल सुरक्षा की दृष्टि से बंद कर दिए गए हैं। अब कोई खतरा नहीं है।

एवरीटाउन फॉर गन सेफ्टी के अनुसार यह इस साल अब तक की सबसे घातक स्कूल शूटिंग थी। एवरीटाउन द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, मंगलवार की घटना से पहले, 2021 में US के स्कूलों में 138 गोलीबारी की घटनाएं हुई थीं। उन सभी घटनाओं में 26 मौतें हुईं, लेकिन किसी एक घटना में 2 से ज्यादा लोगों की जान नहीं गई।

अमेरिकी इतिहास में सबसे घातक स्कूल गोलीबारी अप्रैल 2007 में वर्जीनिया के ब्लैक्सबर्ग में वर्जीनिया टेक पर हमला था, जिसमें शूटर सहित 33 लोग मारे गए थे। इसके बाद दिसंबर 2012 में कनेक्टिकट के न्यूटाउन में सैंडी हुक प्राइमरी स्कूल पर हमला हुआ था, जिसमें 20 बच्चों और शूटर समेत 28 लोग मारे गए थे। फरवरी 2018 में AR-15 असॉल्ट राइफल के साथ एक पूर्व छात्र ने फ्लोरिडा के पार्कलैंड में अपने पूर्व हाईस्कूल में आग लगा दी, जिसमें 17 लोगों की मौत हो गई थी।

Share