Encounter News
Encounter News
Thursday, February 25, 2021 Search Search YouTube Menu

6 दिन बाद खुलेंगे स्कूल, सरकार ने जारी किए गाइडलाइन

नयी दिल्ली : आज से ठीक एक सप्ताह बाद यानी सोमवार 21 सितंबर से स्कूल खुलेंगे. इसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने अपने ट्विटर हैंडिल पर गाइडलाइन शेयर किया है. गौरतलब है कि सरकार ने 21 सितंबर से स्कूल खोले जाने को लेकर पहले ही गाइडलाइन जारी किया है, जिसे राज्यमंत्री ने अपने ट्‌विटर हैंडिल से शेयर किया है. चूंकि अब स्कूल खुलने में बहुत कम समय रह गया है इसलिए सभी बच्चों और खासकर अभिभावकों के लिए यह जानना बहुत जरूरी है कि सरकारी दिशा-निर्देश क्या हैं जिनके आधार पर स्कूल खुलेंगे और जिनके आधार पर बच्चे स्कूल जा सकेंगे. जानकारी के अनुसार अगले साल बोर्ड परीक्षा देने वाले बच्चों के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया भी 21 सितंबर से शुरू हो जायेगी.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्किल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट और उच्च शिक्षा संस्थानों के लिए भी एसओपी जारी किया है, जिनके आधार पर यहां पढ़ाई हो सकेगी. ज्ञात हो कि तकनीकी कोर्स कराने वाले संस्थानों को 21 सितंबर से लैब खोलने की अनुमति मिली है लेकिन इनके लिए आवश्यक शर्तें निर्धारित हैं.

ऐसे होगी पढ़ाई

-बैठने की व्यवस्था ऐसी हो चाहिए कि दो लोगों या डेस्क के बीच छह फीट की दूरी हो.

  • सोशल डिस्टेंसिंग मेनटेन करने के लिए कक्षाएं अलग-अलग समय पर आयोजित की जायेंगी
  • स्कूल की कक्षाओं के साथ-साथ आनलाइन कक्षाएं भी होती रहेंगी, ताकि स्कूल नहीं आने वालों को कोई असुविधा ना हो और उनका पठन-पाठन बाधित ना हो.

-टीचर इस बात का खास ध्यान रखेंगे कि बच्चे मास्क पहनकर आयें और सेनेटाइजेशन की पर्याप्त व्यवस्था हो.

-बच्चों को इस बात की इजाजत नहीं होगी कि वे अपने नोटबुक, लैपटॉप या किसी और चीज की शेयरिंग करें.

हरिवंश दोबारा चुने गये राज्यसभा के उपसभापति, मनोज झा ने कहा-तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल…

हरिवंश दोबारा चुने गये राज्यसभा के उपसभापति, मनोज झा ने कहा-तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल…
कौशल-आधारित प्रशिक्षण देने वाले केंद्रों की व्यवस्था

-सभी उपकरणों को विषाणुमुक्त किया जायेगा

-हर व्यक्ति को प्रशिक्षण के लिए चार वर्गफीट की जगह दी जाये

  • प्रशिक्षण से पहले हर व्यक्ति अपने हाथों को सेनेटाइज करेगा.

इसके साथ ही शौचालयों और स्कूल परिसर की पूरी साफ-सफाई की जायेगी. 21 सितंबर से बच्चों को स्कूल आने के लिए अभिभावकों से लिखित अनुमति लेनी होगी. अगले साल बोर्ड की परीक्षा देने वाले बच्चों का रजिस्ट्रेशन भी 21 सितंबर से शुरू हो जायेगा, ऐसी जानकारी स्कूलों से मिली है.