Encounter News
Encounter News
Tuesday, March 2, 2021 Search Search YouTube Menu

बड़ी उम्र के लोगों को इन 8 चीजों से खतरा, जल्द बना लें दूरी

बढ़ती उम्र के साथ हमारा इम्यून सिस्टम और मांसपेशियां कमजोर होने लगती है। 50 साल के आसपास पहुंचने पर डाइट पर बहुत ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। कमजोर होते शरीर पर खाने की कुछ चीजों का सही असर नहीं होता है जिसकी वजह से दिक्कतें बढ़ सकती हैं। आइए जानते हैं उन चीजों के बारे में जिन्हें उम्र बढ़ने के साथ खाने से बचना चाहिए।

चकोतरा- उम्र बढ़ने के साथ ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, इनसोम्निया और एंग्जायटी जैसी कुछ बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में खानपान का असर आपकी दवाओं पर भी पड़ता है। अगर आप कोई दवा ले रहे हैं तो चकोतरा खाने या इसका जूस पीने से बचें। ये दवाओं के असर को कम करता है। इसकी बजाय आप अपनी डाइट में नींबू की मात्रा बढ़ाएं।

कच्ची सब्जियां- कच्ची सब्जियां विटामिन और फाइबर से भरपूर होते हैं और ज्यादातर लोग इसे सलाद की तरह खाते हैं। हालांकि अगर आपकी बॉडी और आपके दांत कमजोर हो रहे हैं तो आपको ये खाने से बचना चाहिए। कच्ची की जगह सब्जियों को पकाकर खाएं। आप गाजर, कद्दू या चुकंदर का जूस बनाकर पी सकते हैं। इससे आपको शरीर के लिए सभी जरूर पोषक तत्व मिलेंगे।

कच्चे स्प्राउट्स- स्प्राउट्स में विटामिन B और अन्य पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। बुजुर्गों या कमजोर इम्यून सिस्टम वालों के लिए कच्चे स्प्राउट्स सेहतमंद नहीं माने जाते हैं। कच्चे स्प्राउट्स में बैक्टीरिया पनपने की संभावना ज्यादा होती है जिसकी वजह से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। इसलिए कच्चे स्प्राउट्स की जगह इसे उबालकर खाना आपके लिए सही रहेगा।

ज्यादा नमक वाला खाना- अगर आपकी उम्र 51 साल से ज्यादा है तो आपको ज्यादा नमक वाला खाना खाने से बचना चाहिए। इस उम्र में प्रतिदिन 2,300 mg सोडियम लेने की सलाह दी जाती है। ज्यादा नमक खाने से आपका ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है और इसकी वजह से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। सोडियम की मात्रा कम करने के लिए प्रोसेस्ड फूड और बाहर के स्नैक्स खाने से बचें।

गैस बनाने वाली सब्जियां- इम्यून सिस्टम कमजोर होने जाने पर ब्रोकली, पत्ता गोभी, फूल गोभी और राजमा जैसी सब्जियों को पचाने में वक्त लगता है जिसकी वजह से पेट में गैस बनने लगता है। पत्ते वाली सारी सब्जियां विटामिन C, A और K से भरपूर होती हैं। साथ ही ये कैलोरी में भी कम होती हैं। इसलिए इन सब्जियों को जरूर खाएं लेकिन सीमित मात्रा में। राजमा या छोले हफ्ते में एक बार ही खाएं।

शराब- उम्र बढ़ने के साथ-साथ शराब का सेवन बहुत कम कर देना चाहिए। नींद खराब करने के साथ शराब ब्लड प्रेशर भी बढ़ाता है। डायबिटीज के मरीजों में शराब की वजह से हाइपोग्लाइसीमिया हो सकता है. इसके अलावा शराब की वजह से शरीर में दवाओं का असर भी नहीं होता है।

सेब- ताजे फल विटामिन, फाइबर और पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। उम्र बढ़ने के साथ-साथ दांत भी कमजोर होने लगते हैं। हो सकता है कि आपको सेब चबाने में दिक्कत हो और इसकी वजह से दांतों का दर्द बढ़ जाए। इसकी बजाए आप केला, तरबूर और बेरीज जैसे सॉफ्ट फ्रूट्स खाएं। आप इनकी स्मूदी बनाकर भी पी सकते हैं।

कैफीन- उम्र बढ़ने के साथ-साथ कैफीन का सेवन भी कम कर देना चाहिए। कैफीन की वजह से कुछ लोगों को बेचैनी और चिड़चिड़ापन होने लगता है। कैफीन हार्ट रेट भी बढ़ा सकता है। इसके ज्यादा सेवन से आपको नींद की भी दिक्कत हो सकती है। कैफीन की जगह आप हर्बल टी और पानी की मात्रा बढ़ाएं।