Encounter News
Encounter News
Thursday, June 4, 2020 Search Search YouTube Menu

छोड़िए कोरोना (Coronavirus) का रोना, ज्यादा डरने की जरूरत नहीं

Coronavirus

2 मीटर तक फैलता है कोरोना, स्वस्थ इंसान को मास्क की जरूरत नहीं : एम्स

नई दिल्लीः Coronavirus से ज्यादा डरने की जरूरत नहीं है। Coronavirus से जुड़े कई मिथकों का खुलासा एम्स ने किया है। दिल्ली स्थित एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि एक स्वस्थ इंसान को मास्क पहनने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि Coronavirus 1 ह्यूमन वायरस है। इसका जानवरों से कोई लेना-देना नहीं है।

ये भी पढ़ेंः जाएं तो कहां? Yes Bank के डूबने से खाताधारक परेशानी में

उन्होंने कहा कि नॉनवेज खाने से कोरोनावायरस नहीं होता है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि अगर किसी व्यक्ति के आसपास में किसी शख्स को कोरोनावायरस हुआ है, तो पूरी आबादी को डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि कोरोनावायरस एक ड्रॉपलेट इनफेक्शन है जो 2 मीटर तक ही जा पाता है।

Coronavirus

उन्होंने कहा कि अगर कोरोना से पीड़ित कोई शख्स खांसता है तो इसका वायरस 2 मीटर की दूरी तक हवा में रहता है और अगर कोई व्यक्ति उस वक्त उस हवा को सांस के जरिए अंदर लेता है तो उसे यह इंफेक्शन हो सकता है। यह वायरस सरफेस यानी सतह पर यानी दरवाजे टेबल या किसी और सतह पर आ सकता है इसलिए हाथ धोते रहना बहुत जरूरी है। एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा कि कोरोनावायरस से खौफ में जीने की जरूरत नहीं है।

ये भी पढ़ेंः छोड़िए कोरोना का रोना, ज्यादा डरने की जरूरत नहीं

उन्होंने कहा कि एक स्वस्थ इंसान को मास्क पहनने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। अगर किसी को जुकाम-खासी है और वो चाहता है कि उसका इंफेक्शन किसी और को ना हो, तो वह मास्क पहन सकता है। उन्होंने कहा कि एन-95 मास्क भी सिर्फ उन्हीं लोगों को पहनने की जरूरत है जो पेशेंट के साथ डील कर रहे हैं यानी कि कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों का इलाज कर रहे हैं। इसका मतलब है कि हेल्थ केयर वर्कर्स को मास्क पहनने की जरूरत है।

ये भी पढ़ेंः हिमाचल के इस सैलून (Saloon) में हुआ बड़ा कारनामा…

एम्स के निदेशक ने कहा कि ये कहना गलत है कि शराब पीने से कोरोनावायरस ठीक होता है। उन्होंने कहा कि अल्कोहल और कोरोनावायरस का कोई लेना-देना नहीं है। नॉनवेज से जुड़ी धारणा को दूर करते हुए डॉ गुलेरिया ने कहा कि कोरोनावायरस 1 ह्यूमन वायरस है। इसका जानवरों से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि यह एक इंसान से दूसरे इंसान को ही होता है इसलिए नॉनवेज खाने से कोरोनावायरस होने की कोई आशंका नहीं है।

डॉ गुलेरिया ने कहा कि यह वायरस सिंगापुर जैसे गर्म देशों में भी फैल रहा है तो इटली और साउथ कोरिया जैसे ठंडे देशों में भी हुआ है। उन्होंने कहा कि सर्दी में यह वायरस ज्यादा समय तक रह सकता है लेकिन अगर हम अपनी तरफ से इन्फेक्शन को रोकने के सभी तरीके अपनाते हैं, तो हम सुरक्षित रह सकते हैं। कोरोनावायरस को लेकर अभी तक कोई वैक्सीन या दवा नहीं आई है क्योंकि यह एक नया वायरस है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया की वजह से इस बीमारी को लेकर डर ज्यादा है। डॉ. गुलेरिया के मुताबिक कोरोनावायरस से मौत की दर 2 से 3% ही है, यानी 98% लोग ठीक हो जाएंगे।

752 Views

18 Comments

  1. Pingback: viagra 100mg
  2. Pingback: best cialis site
  3. Pingback: naltrexone tablet
  4. Pingback: viagra for sale
  5. Pingback: best otc ed pills
  6. Pingback: tadalafil 20mg
  7. Pingback: top erection pills
  8. Pingback: buy cialis

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *