Encounter News
Encounter News
Wednesday, August 5, 2020 Search Search YouTube Menu

लंबी उम्र चाहिए तो भूलकर भी न खाएं ये 5 चीजें

नई दिल्ली: अब तक आपने यही सुना या पढ़ा होगा कि लंबी उम्र के लिए ये सब खाइए. लेकिन अगर आप लंबी और सेहतमंद जिंदगी चाहते हैं तो ऐसा भी बहुत कुछ है जिससे आपको तौबा करना होगा. कौन-सी है ये चीजें और क्या नुकसान हो सकता है, इनसे?

प्रोसेस्ड फूड
फास्ट फूड इन दिनों फैशन बन गया है. खासकर नॉनवेज को प्रोसेस करके खाने का रिवाज बहुत ज्यादा बढ़ गया है. इस प्रोसेस में सोडियम का इस्तेमाल होता है, जिससे प्रोसेस्ड फूड लंबे समय तक खराब ना हों. बेकन, सॉसेज, हॉट डॉग, सलामी, कोल्ड कट्स आदि इस श्रेणी में आते हैं. डायटीशियन डॉक्टर रमा नरूला कहती हैं, ‘प्रोसेस्ड फूड ज्यादा खाने से शरीर के अंदर असंतुलन होने लगता है, गट गड़बड़ा जाता है और इसकी वजह से क्रोनिक इंफ्लेमेट्री स्थितियां बन जाती हैं.’ सप्ताह में एक बार प्रोसेस्ड फूड खा सकते हैं.

आर्टिफीशियल मीठा या चीनी
सामान्य तौर पर यह माना जाता है कि अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो सामान्य चीनी के स्थान पर शुगर फ्री गोलियों या पाउडर का इस्तेमाल करें. पर तमाम रिसर्च कहते हैं कि इनके प्रयोग से लिवर की प्रॉब्लम हो सकती है. डायबिटीज के मरीजों के लिए यह नुकसानदेह है ही. इससे शरीर की एजिंग क्षमता पर भी फर्क पड़ता है.

दूध से बनी चीजें
बिना चीज के पिज्जा और पास्ता की कल्पना ही नहीं की जा सकती. पिछले दस वर्षों में पूरे विश्व में चीज की खपत दो हजार प्रतिशत बढ़ी है. इसके ज्यादा सेवन से डाइजेस्टिव सिस्टम पर बुरा असर पड़ता है. वजन बढ़ने, दिल की बीमारी, डायबिटीज, मुहांसे जैसी दिक्कत भी बढ़ती है. कुछ शोधों में तो यह भी कहा गया है कि इंसुलिन की तरह ग्रोथ फैक्टर के बढ़ने से कैंसर तक की संभावना बढ़ जाती है.

सोडा
एरिएटेड ड्रिंक, सोडा या दूसरे कोल्ड ड्रिंक्स जिनमें ज्यादा मीठा होता है, सेहत को नुकसान पहुंचाता है. डॉक्टर नरूला के अनुसार, ‘इसे पीना मतलब चीनी और कैमिकल युक्त पेय का सेवन करना है.’ इससे शरीर के क्रैश करने की संभावना 18 प्रतिशत तक बढ़ जाती है. डिमेंशिया, गाउट के अलावा कैंसर को भी यह बढ़ावा देता है.

तला भुना आहार
फास्ट फूड यानी तेल में तला हुआ खाना. वॉटर टाउन मेडिकल सेंटर में हुए हाल के रिसर्च में यह पाया गया कि तेल में तला हुआ खाना, जिसमें सेचुरेटेड और ट्रांस फैट होता है, शरीर के लिए बेहद नुकसानदेह है. पिछले कुछ सालों से बेक्ड और एयर फ्राइड फूड का चलन बढ़ा है, जो कम तेल में सही तरीके से पकाने की पद्धति है.