सरकार कानून व्यवस्था लागू करने में पूरी तरह से असफल: सतपाल रायजादा

ऊना/सुशील पंडित: ऊना सदर के विधायक सतपाल रायजादा ने कहा है कि जिला ऊना में बढ़ती आपराधिक गतिविधियां इस बात का सबूत है कि पुलिस और प्रशासन सहित प्रदेश सरकार कानून व्यवस्था लागू करने में पूरी तरह से असफल हो गई है। गगरेट उपमंडल में एस.डी.एम. और डी.एस.पी. को डेरे में एक तरह से बंधक बनाना और डेरे में युवती की निर्मम हत्या होना सरकारी तंत्र का विफलता का जीता जागता प्रमाण है। यहां जारी बयान में रायजादा ने कहा यदि जल्द कानून व्यवस्था को न बनाया गया तो कांग्रेस पार्टी जनता को साथ लेकर सडक़ों पर उतरेगी। कोविड गाइडलाइन का अब तक पालन किया जा रहा है लेकिन यदि यही हालात रहे तो गाइडलाइन तोडक़र विरोध प्रदर्शनों का दौर शुरू करने से भी गुरेज नहीं किया जाएगा। रायजादा ने कहा कि यदि सरकार नियम तोडक़र रैलियां कर सकती है तो जनता के हक के लिए भी भीड़ के रूप में सडक़ों पर उतरना जायज है। विधायक ने कहा कि कुछ दिन पहले ऊना सदर के नंगड़ा में गोलीकांड में आई.टी.बी.पी. जवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई और जिला मुख्यालय पर डी.सी. और एस.पी. कार्यालय से महज चंद मीटर के फासले पर हवा में गोलियां चलाते हुए लुटेरों ने शराब कारोबारी से 9 लाख रुपए लूट लिए। एक साथ दर्जन भी दुकानों के ताले तोडक़र चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया। पालकवाह में 2 सगे भाइयों पर फायर कर दिए गए। रोजाना हो रही आपराधिक घटनाओं के चलते ऊना क्राइम का हब बनता जा रहा है।

About the author