Encounter News
Encounter News
Thursday, February 25, 2021 Search Search YouTube Menu

सावधानः कोरोना और डेंगू का डबल अटैक, कई मामले आए सामने

नई दिल्ली। इस समय कोविड ने पूरी दिल्ली में आतंक फैला कर रखा है। अब कोविड और डेंगू का डबल अटैक हो रहा है। कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। कुछ मामले एम्स में आए हैं और कई ऐसे प्राइवेट अस्पातलों में भी देखे गए हैं। हाल ही में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी कोविड के बाद डेंगू संक्रमित पाए गए थे। हालांकि इस साल अब तक डेंगू का प्रकोप बाकी सालों से कम है और कहीं न कहीं यह दिल्ली वालों के लिए राहत की बात है।

एम्स के अनुसार अब तक इस सीजन में डेंगू के 53 मरीज एडमिट हो चुके हैं, जिनमें 42 कोविड महामारी के दौरान आए हैं। इनमें से एक मामले की रिपोर्ट एम्स ने की है, जिसमें एक महिला को कोविड के साथ डेंगू भी था। एम्स ने इस मरीज के मैनेजमेंट के बारे में बताया है, जिसमें कहा है कि बीते 23 अगस्त को एम्स में 30 साल की एक महिला को एडमिट किया गया था। इमरजेंसी में पहुंची महिला को फीवर था। उनके प्लेटलेट्स भी काफी कम थे। जांच में कोरोना और डेंगू दोनों की पुष्टि हुई। इसके बाद इलाज शुरू हुआ और करीब 9 दिन बाद उन्हें छुट्टी मिल सकी।

डॉक्टर का कहना है कि इस दौरान डॉक्टरों ने कोविड और डेंगू संक्रमण को लेकर काफी कुछ महसूस किया। दवाओं के जरिए डॉक्टरों ने लगातार कम होते प्लेटलेट्स पर नियंत्रण पा लिया, लेकिन डॉक्टर अब तक यह पता नहीं लगा सके कि 9 दिन बाद भी महिला के शरीर में डेंगू संक्रमण क्यूं पाया गया। इसी तरह एक मरीज मलूचंद अस्पताल में भी आया था। हालांकि, यहां इलाज के लिए आए मरीज को एडमिट करने की भी नौबत नहीं आई। एम्स के ही डॉक्टरों का कहना है कि इस समय मच्छर जनित बीमारी का भी समय है। इसलिए कोरोना महामारी के बीच अन्य तरह के संक्रमण से बचने के लिए लोगों की जिम्मेदारी और भी ज्यादा बढ़ जाती है।

एमसीडी की रिपोर्ट देखें तो इस बार दिल्ली में डेंगू का प्रकोप अब तक नियंत्रण में है। अभी दिल्ली में डेंगू के कुल 138 मरीज हैं, पिछले साल इन दिनों तक 304 मरीज आ चुके थे, यानी आधे से भी कम मरीज हैं। जो कहीं न कहीं राहत की बात है। एमसीडी के आंकड़ों में इस साल दिल्ली में सितंबर में 64 मामले आए हैं, जो पिछले साल सितंबर में 214 मामले आए थे।