Encounter News
Encounter News
Monday, November 30, 2020 Search Search YouTube Menu

बड़ी खबरः कोरोना के बाद एक और मुसीबत, चीन में मिला एक और खतरनाक स्वाइन फ्लू, एक से दूसरे इंसान में फैलता है तेजी से

नई दिल्ली।: कोरोना वायरस का आतंक अभी थमा भी नहीं की दुनिया के सामने एक और मुसीबत आ खड़ी हो गई है। चीन के वैज्ञानिकों ने स्वाइन फ्लू की नई नसल G4 EA H1N1 का पता लगाया है जो कोरोना वायरस की तरह से खतरनाक साबित हो सकती है। यह वायरस आसानी से एक इंसान से दूसरे इंसान में फैल सकता है। चीन की कई यूनिवर्सिटी और चीन के सेंटर फॉर डिजीस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के वैज्ञानिकों के अनुसार इस फ्लू वायरस में वे सभी लक्षण मौजूद हैं जिससे यह इंसानों को संक्रमित कर सकता है। इस वायरस की करीब से निगरानी की जरूरत है। G4 के संपर्क में आए व्यक्ति के भी शुरूआती लक्षण फीवर, खांसी और जुकाम ही हैं लेकिन ये बेहद तेजी से अन्य लोगों में फ़ैल रहा है। इसके लक्षण लगातार तेजी से गंभीर होते जाते हैं और ये मानव शरीर के लिए काफी नुकसानदेह साबित हो सकता है। चीन के वैज्ञानिकों ने इसे खोजने के लिए साल 2011 से 2018 तक रिसर्च किया है। इस दौरान इन वैज्ञानिकों ने चीन के 10 राज्यों से 30 हजार सुअरों के नाक से स्वैब लिया। इससे पता चला कि चीन में 179 तरह के स्वाइन फ्लू हैं। इन सभी में से जी4 को अलग किया गया। ज्यादातर सुअरों में G4 स्वाइन फ्लू मिला। अध्ययन में पता चला कि नया स्वाइल फ्लू G4 इंसानों को तेज़ी और गंभीरता से संक्रमित कर सकता है। G4 अत्यधिक तीव्रता के साथ संक्रमण फैलाता है यानी बहुत तेज़ी से यह इंसानों के बीच महामारी का रूप ले सकता है। वैज्ञानिकों का दावा है कि चीन में सुअरों के फार्म में काम करने वाले हर दस लोगों में से एक में G4 का संक्रमण मिला है। इस टेस्ट से ये खुलासा भी हुआ है कि चीन की करीब 4.4 फीसदी आबादी G4 से संक्रमित हो चुकी है। यह वायरस सुअरों से इंसानों में पहुंच गया है। चीनी वैज्ञानिकों ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि अगर G4 इंसानों से इंसानों में फैलने लगा तो यह महामारी और ख़तरनाक हो जाएगी।